Skip to main content

Posts

Showing posts from September, 2022

नीम करौली बाबा | नीब करोरी बाबा | neeb karori dham | Neem Karoli Dham Uttrakhand #rbtgvlog #vlog

via IFTTT

Puri or Bhubaneshwar ke best tourist places | पुरी और भुवनेश्वर के पास पर्यटन स्थल

Puri or Bhubaneshwar ke best tourist places | पुरी और भुवनेश्वर के पास पर्यटन स्थल  हेलो दोस्तों इस पोस्ट में हम बात करेंगे की Puri or Bhubaneshwar ke best tourist places के बारे में और में आपको बताऊंगा की हमें पुरी और भुबनेश्वर में कब और कहाँ घूमने जाएँ । और इस ब्लॉग पोस्ट में आपको मिलेगी  पुरी और भुवनेश्वर के पास पर्यटन स्थल  की कम्पलीट डिटेल।   भुबनेश्वर में अचानक से लिया गया एक फोटो  वैसे तो ओडिशा का इतिहास हजारों साल पुराणा है पर हम कुछ पॉइंटों पर बात करेंगे। 18 वीं और 19 वीं सदी में जब ओडिशा और बिहार बंगाल प्रेसीडेंसी का हिस्सा थे और 1912 में बिहार और ओडिशा बंगाल प्रेसीडेंसी से अलग हुए और बिहार प्रेसीडेंसी का निर्माण हुआ। और फिर 1अप्रैल 1936 को कटक के कनिका पैलेस में जब बिहार प्रेसीडेन्सी में से भाषा के आधार पर एक प्रान्त अलग हुआ। उस हिस्से की लगभग 93% आबादी की ओरिया भाषा होने के कारण उसको नाम मिला ओरिस्सा जो की अब ओडिशा के रूप में जाना जाता है। ओडिसा की विकास दर काफी ख़राब है इसके सामान्यतः मुझे दो कारण नज़र आते हैं:-  1.यहाँ की जनसँख्या का ज्यादातर भाग जंगलों में रहने वाली